देश के सबसे अमीर बिजनेसमैन की बेटियां अपने दम पर कर रही परिवार का नाम रोशन लाखों लोगों के लिए इंस्पिरेशन

Ananya Birla

अनन्या  बिरला का नाम कौन नहीं जानता।  ये वो नाम है जो सबसे कम उम्र में आंत्रप्रेन्योर बनने की लिस्ट में शुमार है।  अनन्या, बिरला ग्रुप के फाउंडर कुमार मंगलम बिरला की बेटी हैं।  अनन्या ने कभी भी इस बात को अपनी खुद की पहचान पर हावी नहीं होने दिया। वो हमेशा अपने पारिवारिक बिज़नेस से अलग ही चली हैं। और 1 7  साल की उम्र में वे एक सफल आंत्रप्रेन्योर बन गयी। सिर्फ अनन्या ही नहीं बल्कि देश है सबसे अमीर उद्यमियों की बेटियां अपने दम पर अपने और अपने परिवार का नाम रोशन कर रही हैं।  ये वो नाम हैं जिनकी कहानियां बहुत ही रोमांचित करने वाली और उत्साह से भर देने वाली हैं।

अनन्या बिरला-

1 7 साल  की उम्र में जहाँ ज्यादातर युवा अपने फ्यूचर  की दिशा निर्धारित  नहीं कर पाते हैं,  ऐसे में इतनी कम उम्र में अनन्या ने एक फाइनेंस कंपनी की नींव रख दी थी।  स्वतंत्र मिक्रोफिनांस नाम की कंपनी ग्रामीण इलाकों की महिलाओं को अपने पैरों पर खड़ा होने में वित्तीय सहायता देती थी।  इसके बाद अनन्या ऑक्सफ़ोर्ड युनिवर्सिटी चली गयी और वहीँ से उनका इंटरनेशनल पॉप गायिका का सफल  करियर शुरू हुआ।  अनन्या भारतीय मूल की एकमात्र ऐसी  इंटरनेशनल सिंगर है जिसे इंडियन म्यूजिक इंडस्ट्री ने प्लैटिनम अवार्ड से नवाजा है।

एजुकेशन – ऑक्सफ़ोर्ड युनिवर्सिटी से मास्टर

नेट वर्थ– 6.1  बिलियन डॉलर

पद – आंत्रेप्रेन्योर व सिंगर

निसा गोदरेज-

निसा गोदरेज , गोदरेज ग्रुप के फाउंडर और चेयरमैन आदि गोदरेज की बेटी  है।  ऐसा माना जाता है की 2 00 5  – 06  में जब  गोदरेज ग्रुप पर संकट आया था तो उसे फिर से ऊपरी पायदान पर लाने में बेटी निसा की अहम् भूमिका थी।  उन्हें अपनी डिमांड के अनुसार सही टैलेंटेड स्टाफ का चुनाव करना और उनसे काम करवाने का महारथी माना जाता है।  उनकी अपनी कंपनी में कॉर्पोरेट  स्ट्रेटेजी और ह्यूमन कैपिटल फंक्शन पर खासी पकड़ है।  यही  वजह है की पिछले दस सालों में कंपनी ने कई बेंचमार्क स्थापित किये हैं।

एजुकेशन – हॉवर्ड बिसनेस स्कूल से एम बी ए

नेट वर्थ– 2. 9 बिलियन डॉलर

पद – चेयर पर्सन , गोदरेज, कंस्यूमर प्रोडक्ट

ईशा अम्बानी –

ईशा अम्बानी को देश के  सबसे अमीर आदमी की बेटी होने का गौरव तो जरूर मिला है लेकिन अपनी ही कंपनी में अपने काम का लोहा मनवाने के लिए उन्हें भी कठिन परिश्रम से गुजरना पड़ा है। येल यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान भी उनका प्रदर्शन काफी अच्छा था।  लेकिन अपनी कंपनी में उच्च पद पाने के लिए ये काफी नहीं था।  उन्होंने पढ़ाई के बाद मैकेंसी एंड कंपनी बतौर बिज़नेस एनालिस्ट के पद पर काम किया और बिज़नेस की कई बारीकियां  सीखीं। इसके बाद उन्हें अपनी कंपनी में बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर के लिए चुना गया।  लेकिन ईशा यहाँ नहीं रुकने वाली थी।  उन्होंने अपना काम जारी रखते हुए अपने सपनों की उड़ान शुरू की। और अजीओ नाम के ऑनलाइन  फैशन रिटेलर की स्थापना की।

एजुकेशन – येल यूनिवर्सिटी से साइकोलॉजी की पढाई

नेट वर्थ–  700मिलियन  डॉलर

पद –  जिओ और रिलायंस रिटेल की बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर

नंदिनी पीरामल-

पीरामल फाउंडेशन के ओनर और देश के नामी उद्यमी अजय पीरामल की बेटी नंदिनी पीरामल शुरू से ही अपने काम पर फोकस करना पसंद करती है। पढ़ाई ख़तम करने के तुरंत बाद बिना समय गवाए  2006 में ही उन्होंने पीरामल कंपनी में काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने सबसे पहले कंपनी के एच आर विभाग को अपने अधीन किया।  वे अपनी कंपनी में रिस्क टेकर के नाम से भी जानी जाती हैं।  नंदिनी ने जब  अपना बिज़नेस ज्वाइन किया था तब उनकी कंपनी देश की नामी कंपनियों की लिस्ट में 40 वें  नंबर पर थी।  उनके आने के कुछ ही सालों बाद कंपनी 7 वें  पायदान पर आ पहुंची।

एजुकेशन –  स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से एम बी ए

नेट वर्थ–   50  मिलियन डॉलर

पद –  एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर , पीरामल इंटरप्राइजेज

रोशनी नाडार-

एच सी एल  कंपनी की स्थापना करने वाले देश के बिलेनिअर  शिव नाडार के बेटी हैं रौशनी नाडार।  रौशनी अपनी कंपनी में सीइओ के पद पर कार्यरत हैं। नार्थवेस्ट यूनिवर्सिटी से कम्युनिकेशन की पढ़ाई करने के बाद उन्होंने कई चैनल्स में न्यूज़ प्रोडूसर के रूप में काम किया। कुछ सालों बाद उन्होंने वापस अपने देश लौटकर अपनी कंपनी सँभालने का निर्णय लिया। ये उनके लिए सबसे चुनौती से भरा था।  क्यूंकि उन्हें आईटी  और टेक्नोलॉजी फील्ड का ज़रा भी ज्ञान नहीं था।  ऐसे में कंपनी ज्वाइन करने के बाद जब उनकी पहली मीटिंग हुई थी तब वे अपने एम्प्लाइज की बात समझ भी नहीं पायी थीं।  इसके बाद रौशनी ने बेसिक से शुरुवात करते हुए कभी न रुकने की ठानी।  जिन लोगों ने उन्हें बढ़ते हुए देखा है वे ये मानते हैं की रौशनी कभी भी किसी चुनौती  से घबराई नहीं।  और  पीछे मुड़ कर नहीं देखा।

एजुकेशन –  नार्थवेस्ट यूनिवर्सिटी से कम्युनिकेशन की पढ़ाई

नेट वर्थ–   13. 7  बिलियन  डॉलर

पद –  सीइओ,  एच सी एल

About Author
Photo ofArbuda Pandya
Name
Arbuda Pandya
Website
Title
Creative Head at Betingle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: